10 June, 2024
नहीं रुक रहा है प्रदेश में तेदुओं का आतंक, तेंदुए के हमले में चार साल के मासूम की मौत

नहीं रुक रहा है प्रदेश में तेदुओं का आतंक, तेंदुए के हमले में चार साल के मासूम की मौत

पिथौरागढ़ के जाखनी उप्रेती गांव में बुधवार रात को तेंदुए ने एक बच्चे पर हमला कर दिया। इस हमले में बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया, जब उसे इलाज के लिए हायर सेंटर ले जाया जा रहा था, तो बीच रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद से इलाके में दहशत का मौहल है।

हमले के वक्त घर में ही खेल रहा था मासूम

बुधवार रात को चार साल का यश अपने घर में खेल रहा था। इसी बीच, तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया। इस हमले में यश गंभीर रूप से घायल हो गया। इस हमले के बाद उसके गले और सीने पर बेहद गंभीर घाव हो गए थे। इसके बाद, यश को जिला अस्पताल में ले जाया गया, जहां उसके इलाज के दौरान डॉक्टरों ने उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे हायर सेंटर हल्द्वानी को रेफर कर दिया। इस दौरान, बाराकोट के पास ही उसने अपना दम तोड़ दिया।

घटना के बाद वन विभाग हुआ अलर्ट

इस घटना के बाद से वन विभाग अलर्ट हो गया है। वन विभाग ने उस गांव में पिंजरा लगा दिया है और उनकी टीम लगातार गांव में गश्त लगा रही है। इससे पहले भी तेंदुए ने गांव में एक बच्ची पर हमला किया था। 11 मई को उसने सात साल की बच्ची शशिकला पर हमला किया था और उसे घायल कर दिया था। शशिकला का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।

बच्चे की मौत के बाद गांव वालों में दहशत का माहौल

शशिकला पर हमले के बाद, उस समय भी गांव में पिंजरा लगाया गया था जिसमें एक तेंदुआ फंस गया था। इसके बाद, गांव के लोग बेफिक्र हो गए थे। लेकिन, बच्चे पर दोबारा हमला होने और उसकी मौत से, ग्रामीण डर गए हैं। लोगों ने जल्द से जल्द इससे छुटकारा दिलाने की मांग की है।

खबर शेयर करें: