11 June, 2024
विवाद के चलते कालेज में प्रथम वर्ष की एडमिशन प्रक्रिया ठप

3 दिन में मांग पूरी ना होने पर अनशन में बैठने की दी छात्रसंघ पदाधिकारियों ने दी चेतावनी

Lohaghat News: प्राचार्य को हटाने तथा लेजर रजिस्टर के फटे हुए पन्नो की जांच करने की मांग करी

खबर शेयर करें:

मुख्य बिंदु (Main Headlines)

  1. छात्रसंघ पदाधिकारियों व कॉलेज प्रशासन के बीच चल रहा विवाद
  2. छात्रसंघ की मांग न मानने पर 3 दिन बाद धरने पे बैठेंगे छात्र
  3. छात्रसंघ पदाधिकारियों ने कालेज की छत में चढ़कर आत्महत्या की धमकी दे डाली
Amazon deal of the day.

छात्रसंघ पदाधिकारियों व कॉलेज प्रशासन के बीच चल रहा विवाद

पीजी कॉलेज लोहाघाट के छात्रसंघ पदाधिकारियों व कॉलेज प्रशासन के बीच चल रहा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस विवाद के चलते कालेज में प्रथम वर्ष की एडमिशन प्रक्रिया ठप हो चुकी है। वहीं छात्रसंघ अध्यक्ष मयंक ढेक व एबीवीपी के प्रदेश सह संयोजक विवेक पुजारी ने चेतावनी देते हुए कहा अगर कॉलेज प्रशासन प्रथम वर्ष के छात्रों को 3 दिन के भीतर मनचाहे विषय में एडमिशन नहीं देता है। तो छात्रसंघ पदाधिकारी कॉलेज के छात्र छात्राओं के साथ लेकर कॉलेज में अनशन में बैठ जाएंगे। जिसकी पूरी जिम्मेदारी कॉलेज प्रशासन की होगी।

छात्रसंघ की मांग न मानने पर 3 दिन बाद धरने पे बैठेंगे छात्र

वही छात्रसंघ पदाधिकारियों ने अपनी मांगों को लेकर सीएम धामी से खटीमा में मुलाकात कर कॉलेज में सीटें बढ़ाने ,कॉलेज की प्राचार्य को हटाने तथा लेजर रजिस्टर के फटे हुए पन्नो की जांच करने की मांग करी थी, जिस पर सीएम के द्वारा उन्हें उचित आश्वासन दिया गया था। वहीं कालेज में द्वितीय वर्ष की एडमिशन प्रक्रिया सुचारू रूप से चल रही है। वही कॉलेज की प्राचार्य डॉ संगीता गुप्ता पहले ही कह चुकी है। जब तक उन्हें हाईकमान से लिखित में आदेश नहीं मिलेगा।

छात्रसंघ पदाधिकारियों ने कालेज की छत में चढ़कर आत्महत्या की धमकी दे डाली

वह कॉलेज में अधिक सीटों में प्रवेश नहीं देंगी। मालूम हो इस विवाद के चलते छात्रसंघ पदाधिकारी वह कॉलेज का स्टाफ एक दूसरे के खिलाफ धरने तक में बैठ चुके हैं। तथा मांगों को लेकर छात्रसंघ पदाधिकारियों ने कालेज की छत में चढ़कर आत्महत्या की धमकी तक दे डाली थी। लेकिन इतने दिन बीत जाने के बाद भी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है।

रिपोर्टर- लक्ष्मण बिष्ट (लोहाघाट)

खबर शेयर करें: